डिप्लोमा इन बिज़नेस मैनेजमेंट

किसी भी व्यावसायिक संस्थान के संचालन में नेतृत्व, निर्माण, नियंत्रण एवं निगरानी जैसे तथ्यों की अहम् भूमिका होती है, जिसे हम आम तौर पर मैनेजमेंट अथवा प्रबंधन शब्द से सम्बोधित करते हैं। डिप्लोमा इन बिज़नेस मैनेजमेंट इन्हीं विषयों के बुनियादी स्किल्स को विकसित करने हेतु एक सर्टिफिकेट प्रोग्राम है। इस प्रोग्राम के माध्यम से कैंडिडेट के समक्ष एक शानदार करियर का मार्ग प्रशस्त होता है जहां वह बिज़नेस सम्बन्धी विभिन्न क्रिया कलापों को विशिष्ट क्षमता के साथ निर्वहन करतें हैं। यद्वपि बिज़नेस मैनजमेंट का क्षेत्र काफी विस्तृत है जहाँ फाइनेंसियल एकाउंटिंग, बिज़नेस कम्युनिकेशन, प्रिंसिपल ऑफ़ मार्केटिंग, प्रोजेक्ट मैनेजमेंट एवं ह्यूमन रिसोर्सेस आदि अनेकों विषय शामिल होते हैं परन्तु ऐसे विद्यार्थी जिन्हे बिज़नेस मैनजमेंट की औपचारिक प्रशिक्षण के साथ करियर की शुरुआत करनी  हों उनके लिए डिप्लोमा इन बिज़नेस मैनजमेंट एक अच्छा विकल्प सिद्ध हो सकता है। 1 वर्षीय डिप्लोमा इन बिज़नेस मैनेजमेंट के कोर्स में कैंडिडेट्स मौलिक रूप से जिन विषयो का अध्ययन करते हैं उनमें मैनेजमेंट एकाउंटिंग एंड एप्लाइड स्टेटिस्टिक्स ह्यूमन रिसोर्सेस मैनेजमेंट, प्रिंसिपल ऑफ़ मैनेजमेंट, फाइनेंसियल मैनेजमेंट,मार्केटिंग मैनेजमेंट, मैनेजमेंट इनफार्मेशन सिस्टम, ई बिज़नेस, प्रोडक्शन एंड ऑपरेशनल मैनेजमेंट एवं प्रोजेक्ट रिपोर्ट आदि शामिल हैं। इस बहुमुखी एवं व्यापक विशिष्टता के कारण कैंडिडेट के समक्ष असीम संभावनाओं के अवसर उपलब्ध होने लगते हैं।

इस कोर्स के लिए अभ्यर्थी का किसी रिकग्नाइज़्ड कॉलेज अथवा यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएट होना आवश्यक अहर्ता है। दाखिले  की प्रक्रिया मैरिट के आधार पर डायरेक्ट एडमिशन के माध्यम से होती है। कुछ इंस्टीटूशन्स या यूनिवर्सिटी में एडमिशन हेतु  एंट्रेंस एग्जाम का भी चलन है  जैसे नॉर्थ  महाराष्ट्रा यूनिवर्सिटी एंट्रेंस एग्जाम,  बॉम्बे एकेडेमी ऑफ़ मैनेजमेंट स्टडीज एंट्रेंस एग्जाम, शिवाजी यूनिवर्सिटी एंट्रेंस एग्जाम, मारिस स्टैला कॉलेज एंट्रेंस एग्जाम आदि।  डिप्लोमा इन बिज़नेस मैनेजमेंट कोर्स के लिए उपलब्ध अनेकों कॉलेजों में इंटरनेशनल यूनिवर्सिटी गौतम बुद्ध नगर, ITM बिज़नेस स्कूल मुंबई, सिम्बायोसिस इंटरनेशनल यूनिवर्सिटी पुणे,स्कूल ऑफ़ इंस्पायर्ड लीडरशिप गुरुग्राम,स्कूल ऑफ़ बिज़नेस मैनेजमेंट बैंगलोर,  GD गोयनका यूनिवर्सिटी गुरुग्राम, EMPI बिज़नेस स्कूल नई दिल्ली आदि के नाम आते हैं। इन कॉलेजों की फी INR 12,900 से INR 7,40,000 तक हो सकती है।

ऑर्गनाइज़ेशन, एसोसिएशन अथवा इंडस्ट्रीज़ के सुचारू रूप से प्रबंधन में  मैनेजर की नियुक्ति एक गारंटी शुदा आश्वासन के तौर पर देखा जाता है।  कर्मियों के सन्दर्भ में प्रशासन से ले कर दैनिक कार्य संचालन, बुक कीपिंग, फण्ड मैनेजमेंट आदि अनेकों कार्य भार  मैनेजर के ही कंधों  पर होता है। निश्चित रूप से निजी प्राइवेट सेक्टर अथवा गवर्नमेंट सेक्टर्स में मैनेजर्स की  मांग सदा बनी रहती है। कैंडिडेट इस कोर्स के बाद एंट्री लेवल पर एक बड़े पैमाने पर उपलब्ध कम्पनीज, ऑर्गनाइज़ेशन, बिज़नेस हाउसेस अथवा इंडस्ट्रीज जैसे कंस्ट्रक्शन इंडस्ट्रीज़, हेल्थ इंडस्ट्रीज़, केमिकल इंडस्ट्रीज़, ग्रोसरी स्टोर, यूटिलिटी इंडस्ट्रीज़, फैशन इंडस्ट्रीज़, कॉलेज व यूनिवर्सिटी आदि   में ज्वाइन कर के एक बेहतर करियर की शुरुआत कर सकते हैं।

डिप्लोमा इन बिज़नेस मैनेजमेंट के कोर्स के उपरांत विभिन्न क्षेत्रो में उपलब्ध विभिन्न पद जैसे प्रोडक्शन मैनेजर, मार्केटिंग मैनेजर, बिज़नेस मैनेजमेंट एग्जीक्यूटिव, फाइनेंस मैनेजर बिज़नेस एनालिस्ट।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *